ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
उत्तर भारत में शीतलहर का प्रकोप जारी, चंडीगढ़ में कई उड़ानें बाधित
December 17, 2019 • Rashtra Times

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश में सोमवार को फिर से बर्फबारी हुई और उत्तर भारत के अधिकांश हिस्सों में सोमवार को शीतलहर जारी रही। दिल्ली में अधिकतम तापमान मौसम के औसत से 10 डिग्री सेल्सियस कम रहा। उधर भारी कोहरे के कारण चंडीगढ़ में कई उड़ानें बाधित हो गईं। जम्मू-कश्मीर का द्रास सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 27.2 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया। दिल्ली के लोगों ने सोमवार को भी शीतलहर का सामना किया।
मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली में न्यूनतम तापमान 10.2 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 12.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि मंगलवार तक शहर में शीतलहर का प्रकोप जारी रहेगा। शहर में कई स्थानों पर कोहरे के कारण दृश्यता कम हो गई। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में रातभर ताजा बर्फबारी हुई और केलांग, कल्पा, मनाली और कुफरी में शून्य के करीब तापमान पर लोग ठिठुरते रहे।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक मनमोहन सिंह ने कहा पिछले 24 घंटों के दौरान शिमला में 7.3 सेमी बर्फबारी हुई। शहर में सोमवार को लगातार तीसरे दिन बर्फबारी हुई। पर्यटन स्थल मनाली में शून्य से 4.8 डिग्री सेल्सियस कम तापमान के साथ शीतलहर की स्थिति गंभीर रही। कुफरी में पारा शून्य से 1.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

उन्होंने कहा कि राज्य में सबसे कम तापमान लाहौल-स्पीति के प्रशासनिक केंद्र कीलोंग में शून्य से 14.9 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया। हिमाचल के लोकप्रिय पर्यटन स्थलों जैसे शिमला में न्यूनतम तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस, चंबा में 1 डिग्री सेल्सियस, सोलन में 1.2 डिग्री सेल्सियस और डलहौजी में 1.5 डिग्री सेल्सियस रहा। राज्य में सबसे अधिक तापमान बिलासपुर में 21 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने 19 से 21 दिसंबर तक राज्य में बारिश और बर्फबारी का पूर्वानुमान जताया है। जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के अधिकांश हिस्सों में, सोमवार को पारा और नीचे गिर गया और द्रास इस क्षेत्र में सबसे ठंडा स्थान रहा। मौसमविदों ने मैदानी इलाकों और ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शुष्क मौसम का पूर्वानुमान जताया है। जम्मू-कश्मीर का द्रास सबसे ठंडा स्थान रहा, जहां न्यूनतम तापमान शून्य से 27.2 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया।

मौसमविदों के अनुसार लद्दाख के लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से 16.7 डिग्री नीचे रहा। उन्होंने कहा कि श्रीनगर में पिछले सप्ताह हुई बर्फबारी से क्षेत्र के तापमान में गिरावट आई है। श्रीनगर में अधिकतम तापमान 5.8 डिग्री और न्यूनतम तापमान शून्य से 1.6 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग के प्रसिद्ध स्की रिसॉर्ट का न्यूनतम तापमान शून्य से 10.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कश्मीर में सबसे ठंडा रहा। दक्षिण कश्मीर के पहलगाम पहाड़ी रिसॉर्ट में तापमान शून्य से 10 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया। जम्मू में न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस पाया गया।

प्रवक्ता ने बताया कि रियासी जिले में वैष्णोदेवी मंदिर जाने वाले तीर्थयात्रियों के लिए आधार शिविर के रूप में कार्य करने वाले कटरा शहर में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकारियों ने कहा कि उत्तराखंड में कई पर्यटक ऊंचाई पर स्थित राजमार्गों पर फंसे हुए हैं।

बर्फबारी से नारायण बगड़, जोशीमठ और टिहरी के दर्जनों गांवों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई है, जो अभी तक बहाल नहीं की गई है। पंजाब के पठानकोट और चंडीगढ़ में सोमवार 9.9 डिग्री सेल्सियस के न्यूनतम तापमान के साथ अब तक का सबसे ठंडा दिन रहा। पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों में दिन का तापमान सामान्य सीमा से 7-11 डिग्री नीचे चला गया।

पंजाब और हरियाणा में चंडीगढ़ सहित कई अन्य स्थानों की सुबह कोहरे से ढंकी हुई थी। चंडीगढ़ का अधिकतम तापमान सामान्य से 11 डिग्री कम दर्ज किया गया। पठानकोट का अधिकतम तापमान सामान्य से 10 डिग्री कम दर्ज किया गया। हरियाणा के हिसार में अधिकतम तापमान 11.9 डिग्री सेल्सियस, अंबाला में 12.5 डिग्री सेल्सियस, करनाल में 12.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकांश स्थानों पर रात का तापमान 8 से 9 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। खराब मौसम और खराब दृश्यता के कारण चंडीगढ़ में कई उड़ानें बाधित हुईं।

मौसम विभाग ने कहा है कि राजस्थान के कुछ हिस्सों में शीतलहर की स्थिति बनी हुई है। रविवार रात को न्यूनतम तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। मौसम विभाग के अनुसार अन्य जिलों में रात का तापमान 10 डिग्री से ऊपर रहा। अगले 24 घंटों के दौरान मौसम की स्थिति वैसी ही रहेगी।