ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
उन्नाव रेप पीड़िता के पिता की हत्या में मामले में पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर दोषी करार
March 4, 2020 • Rashtra Times

चर्चित उन्नाव रेप मामले में पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को पीड़िता के पिता की हत्या का दोषी करार दिया गया है। दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने बुधवार को इस मामले में सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया। इस मामले के 11 आरोपियों में से कोर्ट ने 4 को बरी कर दिया है। वहीं कुलदीप सिंह सहित 7 लोगों को दोषी पाया है। 

कोर्ट ने कुलदीप सेंगर को 120 बी के तहत दोषी मानते हुए चार आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी किया। कोर्ट 12 मार्च को इस मामले में सजा का ऐलान करेगा। बीते साल दिसंबर में दिल्ली की कोर्ट ने दुष्कर्म मामले में सेंगर को उम्रकैद की सजा सुनाई थी। दोषी करार दिए लोगों में 2 उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारी, 1 एसएचओ है, 1 सब इंस्पेक्टर शामिल है।

जाने क्या है पूरा मामला

रेप पीड़िता के पिता की 9 अप्रैल 2018 को न्यायिक हिरासत में मौत हो गई थी। इस मामले में सीबीआई जाँच कर रही थी। सीबीआई के मुताबिक 3 अप्रै, 2018 को पीड़िता के पिता और शशि प्रताप सिंह के बीच विवाद हुआ था। 13 जुलाई, 2018 को दायर आरोप-पत्र के मुताबिक पीड़िता के पिता और उनके सहकर्मी अपने गांव माखी से लौट रहे थे जब उन्होंने शशि प्रताप सिंह से लिफ्ट मांगी थी। 

शशि प्रताप ने उन्हें लिफ्ट देने से मना कर दिया और तीनों के बीच बहस शुरू हो गई। शशि प्रताप ने अपने साथियों को बुलाया जिसके बाद विधायक का भाई अतुल सिंह सेंगर अन्य के साथ मौके पर पहुंचा और पीड़िता के पिता तथा उनके सहकर्मी की पिटाई की। पीड़िता के पिता को बाद में वे लोग थाने ले गए और उनके खिलाफ एक FIR दर्ज की गई। 

आरोप-पत्र में कहा गया कि इस पूरे वाकये के दौरान कुलदीप सेंगर जिले के पुलिस अधीक्षक और माखी पुलिस थाने के प्रभारी अशोक सिंह भदौरिया के साथ संपर्क में रहा। बाद में उसने पीड़िता के पिता की जांच करने वाले डॉक्टर से भी बात की थी। इससे पहले कोर्ट ने सेंगर, उसके भाई अतुल, भदौरिया, उप निरीक्षक कामता प्रसाद, कॉन्स्टेबल आमिर खान और मामले में 6 अन्य के खिलाफ आरोप तय किए थे। 

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर 1 अगस्त को यह मामला उत्तर प्रदेश की निचली अदालत से दिल्ली स्थानांतरित किया गया था। जुलाई में एक ट्रक ने उस कार को टक्कर मार दी थी जिसमें रेप पीड़िता अपने परिवार के कुछ लोगों और अपने वकील के साथ सफर कर रही थी। इस हादसे में पीड़िता के दो रिश्तेदारों की मौत हो गई थी।