ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
तीसरे चरण में 81.83 प्रतिशत मतदान, हनुमानगढ़ जिले में हुई सबसे ज्यादा 91.31 प्रतिशत वोटिंग
January 30, 2020 • Rashtra Times

जयपुर। राज्य की 49 पंचायत समितियों की 1,700 ग्राम पंचायतों के 17,516 वार्डों में बुधवार को हुए तीसरे चरण के लिए हुए चुनाव में रिकाॅर्ड 81.83 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। सर्वाधिक मतदान हनुमानगढ़ जिले में हुआ, जहां 91.31 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का उपयोग किया। गौरतलब है कि 24 जिलों में 17 सरपंच और 6 हजार 953 पंच निर्विरोध चुन लिए गए हैं। 

राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त पीएस मेहरा ने रिकाॅर्ड वोटिंग के लिए मतदाताओं का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं के सहयोग से और संबंधित जिला निर्वाचन अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों और निर्वाचन कार्य से जुड़े समस्त कार्मिकों के समर्पण की भावना से तीसरे चरण के चुनाव सफलतापूर्वक संपन्न हो सके हैं। उन्होंने सकारात्मक सहयोग के लिए मीडिया का भी आभार व्यक्त किया।

विभिन्न जिलों में वोटिंग प्रतिशत

आयुक्त मेहरा ने बताया कि अजमेर जिले में 85.07 प्रतिशत, अलवर में 87.39, बारां में 86.87, बाड़मेर में 88.25, भरतपुर में 86.10, भीलवाड़ा में 85.05, बूंदी में 85.79, चित्तौड़गढ़ में 89.08, चूरू में 88.79, श्रीगंगानगर में 87.39 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

इसी तरह हनुमानगढ़ में सर्वाधिक 91.31, जयपुर में 82.25, जालौर में 63.94, झालावाड़ में 86.95, झुंझनू में 77.85, जोधपुर में 80.53 में, कोटा में 83.90, पाली में 68.50, प्रतापगढ़ में 90.83, राजसमंद में 78.18, सवाई माधोपुर में 81.29, सिरोही में 71.98, टोंक में 84.82 और उदयपुर में 79.46 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान कर लोकतांत्रिक व्यवस्था में अपना विश्वास जताया। कुल 81.83 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।
 

सुबह धीमी गति से चल रही वोटिंग ने शाम तक रफ्तार पकड़ी
तीसरे चरण में भी मतदाताओं ने पूरे जोश और उत्साह के साथ मतदान किया। ग्रामीण अंचल में मतदान के लिए सुबह से कई बूथों पर लंबी-लंबी कतारें देखी गईं। इसके चलते दोपहर 10 बजे मतदान का 13.25 प्रतिशत रहा तो 12 बजे तक 32.11 तक जा पहुंचा। दोपहर 3 बजे तक प्रतिशत 58.72 हो गया और शाम बजे 5 बजे तक 76.91 प्रतिशत मतदाता वोट डाल चुके थे।

मतदान समाप्ति तक यह आंकड़ा 81.83 तक पहुंच गया। गौरतलब है कि 17 और 22 जनवरी को हुए दो चरणों के चुनाव में मतदाताओं ने भारी जोश के साथ मतदान किया। पहले चरण में जहां 81.51 प्रतिशत मतदाताओं ने तो दूसरे चरण में 82.78 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था।