ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
राहुल के अध्यादेश फाड़ने के बाद इस्तीफा देने वाले थे मनमोहन! अहलूवालिया ने किया बड़ा खुलासा
February 16, 2020 • Rashtra Times

27 सितंबर 2013 को दोपहर पौने दो बजे दिल्ली के प्रेस क्लब में कांग्रेस महासचिव अजय माकन की प्रेस कॉन्फ्रेंस में दो मिनट का ब्रेक डालकर राहुल ने अपनी सरकार के खिलाफ बगावत का ऐसा बिगुल फूंका जिसकी चर्चा राजनीति के इतिहास में हमेशा होती रही है। राहुल ने मनमोहन सरकार के लाए अध्यादेश पर बोलते हुए कहा था कि ‘मैं आपको बताता हूं कि इस अध्यादेश पर मेरी निजी राय क्या है? यह सरासर बकवास है। इसे फाड़ के फेंक देना चाहिए। मेरी तो यही राय है। ’’राहुल के इस तेवर पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी हैरान हो गए थे।इस घटना के सात साल बाद पूरे मामले को लेकर नीति आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने बड़ा खुलासा किया है। मोंटेक सिंह ने कहा कि इस घटना के बाद मनमोहन सिंह ने उनसे पूछा कि क्या उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। अहलूवालिया ने मनमोहन सिंह से कहा था कि  इस मुद्दे पर इस्तीफा देना उचित नहीं है।