ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
पीएम मोदी के ऐलान के बाद रेलवे ने किया 3 मई तक के लिए सभी ट्रेनों को रद्द, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रहेंगी निलंबित
April 14, 2020 • Rashtra Times

नई दिल्ली. कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते देशभर को 3 मई तक लाॅकडाउन कर दिया गया है। 21 दिनों से लागू लॉकडाउन को अब दूसरे फेज तीन मई तक बढ़ाए जाने के बाद रेलवे ने अपनी सभी यात्री ट्रेनें 3 मई तक रद्द करने का ऐलान किया है। हालांकि, इस दौरान मालगाड़ियां चलाई जाएंगी। रेलवे के अधिकारी के मुताबिक, "हमने विस्तारित लॉकडाउन अवधि को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया है। अधिक अपडेट जल्द ही उपलब्ध होंगे।" आपको बता दें कि रेल मंत्रालय ने कोरोनावायरस संक्रमण को रोकने के लिए लिए सभी यात्री ट्रेनों को 14 अप्रैल तक नहीं चलाने का ऐलान किया था। क्या कहा रेलवे ने रेलवे ने कहा कि 3 मई की मध्य रात्रि यानी रात 12 बजे तक सभी यात्री सेवाएं बंद रहेंगी। रेल मंत्रालय ने ट्वीट करके बताया कि मेल/एक्सप्रेस/पैसेंजर/उपनगरीय ट्रेनों के अलावा कोलकाता मेट्रो और कोंकण रेलवे की सभी सेवाओं को बंद रखने का फैसला लिया गया है। ये सभी सेवाएं 3 मई तक के लिए स्थगित की गई है। साथ ही यह भी कहा गया है कि अगले आदेश तक अब टिकट की बुकिंग बंद रहेंगी। ई-टिकट बुकिंग सेवाएं भी बंद रहेंगी। लोगों की पहले से बुक टिकटों के पूरे पैसे उन्हें वापस किए जाएंगे।

मिल जाएगा रिफंड
अगर आपने ऑनलाइन टिकट करा रखा है तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है। दरअसल, बीते दिनों आईआरसीटीसी ने बताया था कि यात्री की ओर से ई-टिकट को रद्द करने की आवश्यकता नहीं है। यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे उन ट्रेनों के लिए ई-टिकट को रद्द न करें, जिन्हें रेलवे ने रद्द कर दिया है। आईआरसीटीसी के मुताबिक ई-टिकट की बुकिंग के लिए यात्री द्वारा इस्तेमाल किए गए खाते में उसका पूरा पैसा भेज दिया जाएगा। रेलगाड़ी रद्द होने के मामले में रेलवे द्वारा कोई शुल्क नहीं काटा जाता है। वहीं, अगर आपने काउंटर से रेल टिकट ले रखा है तो आपको 21 जून तक रिफंड मिल जाएगा।

घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानें भी निलंबित
इस बीच नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित करने का ऐलान कर दिया है। मंत्रालय की तरफ से ट्वीट करके कहा है कि अगले 3 मई रात 12 बजे तक सभी घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ाने निलंबित रहेंगी। बता दें कि हाल ही में नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि यह विश्वास होने पर कि कोरोनावायरस की स्थिति नियंत्रण में है तो भारत घरेलू और अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री उड़ानों पर लगी रोक को हटा लेगा। एयरलाइंस कंपनियां क्रेडिट शेल के तहत रिफंड देगी
अगर आपने हवाई टिकट करा रखा है तब भी आपको घबराने की जरूरत नहीं हैं। आपके टिकट के पैसे आपके पीएनआर में क्रेडिट शेल के रूप में सुरक्षित रहेंगे। इस क्रेडिट शेल का उपयोग इश्यू डेट से लेकर अगले 1 साल तक उसी यात्री द्वारा किया जा सकेगा। क्रेडिट शेल बैलेंस को देखने के लिए एयरलाइंस कंपनियों के वेबसाइट पर एडिट बुकिंग सेक्शन में जाकर आप अपने यात्रा विवरणों को हासिल कर सकते हैं।