ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
पति की मारपीट के बाद मानसिक संतुलन बिगड़ा तो बच्चों जैसा व्यवहार कर रही है विवाहिता
May 14, 2020 • Rashtra Times

  गुरदासपुर. गुरदासपुर में एक विवाहिता को उसके पति ने इतना पीटा कि उसका मानसिक संतुलन बिगड़ गया। अब वह एकदम बच्चों की तरह बर्ताव कर रही है। किसी से भी डर जाती है और अपनी भाभी के पीछे छिपकर सुरक्षित महसूस करती है। परिजनों ने उसे सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया है। डॉक्टरों ने उसका इलाज तो शुरू कर दिया है, लेकिन उनका कहना है कि इसे किसी मनोरोग विशेषज्ञ की जरूरत है। दूसरी ओर परिजनों ने पुलिस में भी शिकायत दर्ज करवाई है। 

गुरदासपुर सिविल अस्पताल में भर्ती रेखा के पिता बलकार मसीह निवासी गांव जापूवाल ने बताया कि उन्होंने अपनी बेटी की शादी 6 साल पहले बटाला के प्रतापगढ़ निवासी मनदीप के साथ की थी। उन्होंने बताया कि दो साल तक सब कुछ ठीक चलता रहा, लेकिन उसके बाद से ही मनदीप ने उनकी बेटी से मारपीट करना और दहेज की मांग करनी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि मनदीप रंग-रोगन करने का काम करता है और शराब पीने का आदी है। उन्होंने बताया कि पहले भी कई बार उसने रेखा से मारपीट कर उसे घर से निकाला था। गणमान्य लोगों की उस्थिति में राजीनामा करके उसे ले जाता था, लेकिन इस बार तो उसने मारपीट की हद ही कर दी।

कुछ दिन पहले उन्हें रेखा का फोन आया था कि उसका पति उससे बुरी तरह से मारपीट करता है। बुधवार शाम को हम अपनी बेटी से मिलने जब उसके ससुराल गए तो उनकी बेटी बिस्तर पर बेहोश पड़ी हुई थी, जबकि उसकी साढ़े तीन वर्षीय व डेढ़ वर्षीय दोनों बेटियां उसके पास बैठी हुई थी, जबकि पास ही उनका दामाद भी सोफे पर बैठा हुआ था। हमने किसी तरह अपनी बेटी को होश में लाया, लेकिन वो हमें पहचान नहीं रही थी। उसकी दिमागी हालत इतनी बिगड़ चुकी है कि वो हमें तो क्या अपनी बेटियों तक नहीं पहचान पा रही है। हम लोग उसे लेकर अपने घर आ गए और आज उसे अस्पताल में भर्ती करवाया है।

रेखा का इलाज करने वाले डॉक्टर लवप्रीत सिंह ने बताया कि घरेलू झगड़े के कारण उसकी यह हालत है। उसका इलाज शुरू किया गया है, लेकिन दिमागी हालत ठीक न होने के चलते उसे मनोवैज्ञानिक  की जरूरत है। रेखा की एमएलआर काटकर संबंधित थाने को भेज दी गई है।

उधर, थाना धारीवाल के प्रभारी मनजीत सिंह का कहना है कि पुलिस मुलाजिमों को महिला के बयान लेने भेजा गया था। फिलहाल वह बयान देने की स्थिति में नहीं है। उसके बयान के आधार पर आगे की कानूनी कार्रवाई की जाएगी।