ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
नतीजों से पहले कांग्रेस में आप को समर्थन पर दो फाड़, चाको बोले- रिजल्ट देखकर विचार करेंगे
February 10, 2020 • Rashtra Times

नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा 2020 के नतीजे कल यानी मंगलवार 11 जनवरी को आएंगे। एग्जिट पोल्स की मानें तो देश की राजधानी में आम आदमी पार्टी (आप) का प्रदर्शन बेहतर रहेगा। वो पूर्ण बहुमत की सरकार बना सकती है। दूसरी तरफ, भाजपा को भी 2015 की तुलना में ज्यादा सीटें मिल सकती हैं। पिछले चुनाव में आप ने 67 और भाजपा ने सिर्फ तीन सीटें जीती थीं। कांग्रेस का खाता भी नहीं खुल सका था। बहरहाल, दिल्ली के नतीजे आने के पहले ही कांग्रेस के दो बड़े नेताओं के बयान सामने आए। वरिष्ठ कांग्रेस नेता पीसी. चाको आप से गठबंधन की संभावनाएं देख रहे हैं। दूसरी तरफ, दिल्ली यूनिट के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा इसे सिरे से खारिज कर रहे हैं। 

नतीजों का इंतजार 
दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे आने में कुछ घंटे बाकी हैं। एग्जिट पोल्स में कांग्रेस को दौड़ से बाहर बताया जा रहा है। लेकिन, पार्टी के अंदर आप से चुनाव बाद गठबंधन की चर्चा शुरू हो गई है। न्यूज एजेंसी से बातचीत में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी. चाको ने कहा, “आप और कांग्रेस गठबंधन चुनाव परिणाम पर निर्भर करता है। नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। एक बार परिणाम आने दीजिए। इसके बाद ही इस बारे में विचार किया जाएगा। फिलहाल, कुछ कहना जल्दबाजी होगा।” पहले भी कांग्रेस और आप के बीच गठबंधन की चर्चाएं थीं। तब दिल्ली कांग्रेस के कई बड़े नेताओं ने इसका विरोध किया था। दिवंगत कांग्रेस नेता शीला दीक्षित भी अलायंस के पक्ष में नहीं थीं। हालंकि, चाको का रुख आप के प्रति काफी नर्म रहा है। 

चोपड़ा आप से गठबंधन के पक्ष में नहीं
कांग्रेस ने चुनाव से कुछ महीने पहले ही सुभाष चोपड़ा को दिल्ली का प्रदेश अध्यक्ष बनाया। हालांकि, कैंपेन में वो खुद ही बहुत एक्टिव नजर नहीं आए। आप से गठबंधन के सवाल पर सुभाष ने कहा, “व्यक्तिगत तौर पर मैं केजरीवाल सरकार के खिलाफ हूं। जहां तक पीसी. चाको के बयान का सवाल है तो यह उनका नजरिया हो सकता है। लेकिन, मैं आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन को तैयार नहीं हो सकता। इससे ज्यादा मैं तभी कह सकूंगा जब नतीजे सामने आ जाएंगे।” हालांकि, चाको और चोपड़ा दोनों ने ही एग्जिट पोल्स को खारिज कर दिया।