ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
महाराष्ट्र के हजूर साहिब से लौटे 185 श्रद्धालु पॉजिटिव मिले, इनमें सबसे ज्यादा 76 अमृतसर से; इनका आंकड़ा बढ़ने की आशंका  
May 1, 2020 • Rashtra Times

जालंधर. लॉकडाउन फेज-2 का शुक्रवार को 17वां दिन है। राज्य में बीते 48 घंटों में 204 मामले सामने आए। इसके साथ संक्रमितों की संख्या बढ़कर 549 पर पहुंच गई है। वहीं, 6 महीने की बच्ची समेत 20 की मौत भी हो चुकी है। उधर, महाराष्ट्र के नांदेड़ के हजूर साहिब से लौटे 185 श्रद्धालु पॉजिटिव मिले हैं। यह आंकड़ा पिछले चार दिनों का है। इनमें सबसे ज्यादा अमृतसर में 76 और लुधियाना में 48 केस सामने आए। 

सरकार के मुताबिक, नांदेड़ से राज्य में 3525 के करीब श्रद्धालु लौटे हैं। कई श्रद्धालु खुद भी अपने वाहन कर आए हैं। कई श्रद्धालुओं की रिपोर्ट अभी पेंडिंग है। इससे आंकड़ा और बढ़ने की आशंका है। अमृतसर में बुधवार को एक साथ 76 केस आए। इससे वह सूबे में सबसे ज्यादा संक्रमित मरीजों वाला जिला बन गया है। यहां अब 90 मरीज हो गए हैं। जालंधर 89 मरीज के साथ दूसरे, मोहाली 87 के साथ तीसरे, लुधियाना 77 के साथ चौथे और पटियाला 63 के साथ पांचवें और पठानकोट 25 मरीजों के साथ छठे नंबर पर है। यह सभी जिले अब कोरोना के हॉट स्पॉट बने हुए हैं।

कन्फेडेरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री उद्योग जगत को आ रही मुश्किलें हल करवा रही
कन्फेडेरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री क‌र्फ्यू के दौरान उद्योग जगत को आ रही मुश्किलों को हल करने के लिए लगातार सरकार और विभिन्न जिलों में प्रशासन के साथ तालमेल बिठाने की कोशिश कर रही है। कई तरह के पेपर वर्क सीआईआई पूरा करवा कर क्लीयरेंस सर्टिफिकेट दिलाए जा रहे हैं। इसके अलावा फैक्टरियों में काम करने वाली लेबर को क‌र्फ्यू पास मुहैया करवाने, उन्हें वेतन दिलाने, फैक्टरियों में लेबर तक खाना पहुंचाने के प्रयास किए जा रहे हैं। जालंधर: जालंधर जिले में शुक्रवार सुबह 7 से 11 बजे तक चार घंटे दुकानें खोलने की मंजूरी दी गई है। असर केवल गली-मोहल्लों में स्थित दुकानों पर ही देखने को मिला। दुकानदारों ने कर्फ्यू में पहली बार शटर उठाकर दुकानें सजाईं। 
नकोदर: नकोदर में फंसे 24 एनआरआई ब्रिटिश एंबेसी स्पेशल बसों से अमृतसर एयरपोर्ट के लिए रवाना हुए। गुरुवार आधी रात के बाद  2 बजे उनकी फ्लाइट थी। गुरप्रीत सिंह ने बताया कि इंग्लैंड, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा अंबेसी की तरफ से एनआरआई लोगों को एयरपोर्ट तक पहुंचाने के लिए उनकी कंपनी की बसों को हायर किया गया है।