ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
कोरोना वायरस के क्या हैं लक्षण
February 5, 2020 • Rashtra Times • राष्ट्रीय

चीन से प्रारम्भ हुआ कोरोना वायरस का खतरा पूरी संसार में फैल गया है. अब तक अछूते रहे हिंदुस्तान में भी तेजी से संदिग्ध मरीज सामने आने लगे हैं. केरल में एक मरीज में इसकी पुष्टि भी हो चुकी है.

इसे देखते हुए सरकार भी सजग होगी है. हर एयरपोर्ट पर चाइना या दूसरे प्रभावित राष्ट्रों से आने वाले लोगों की जाँच की जा रही है. इस बीच, हांगकांग की सरकार ने वहां के लोगों के लिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश जारी किए हैं. इन महत्वपूर्ण बातों को जानकर हर कोई इस खतरनाक बीमारी से दूर रह सकता है.

सरकार ने आम जनता के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है व बताया गया है कि कोरोना वायरस को लेकर अब दशा गंभीर हो गए हैं. सभी लोग इससे बचने के महत्वपूर्ण तरीका करें. जैसे यदि गला सूखता है तो लगातार पानी पीते रहें. यदि प्यास लग रही है तो तत्काल पानी पिएं. क्योंकि यदि गला सूखा रहेगा तो वायरस तेजी से शरीर में प्रवेश करेगा. सलाह दी गई है कि एक साथ बहुत सारा पानी पीने से कोई लाभ नहीं होगा. इसके बजाए एक-एक दो-दो घूंट पानी पीते रहें. साथ ही लोगों से बोला गया है कि वे इस वर्ष मार्च तक भीड़ वाले स्थानों पर न जाएं. यदि ट्रेन या पब्लिक ट्रांसपोर्ट का उपयोग कर रहे हैं तो मुंह पर मास्क पहनें. साधारण मास्क के बजाए मान्यता प्राप्त मास्क ही खरीदें. तले-गले या बेहद मसालों से बनी चीजें न खाएं. विटामिन सी युक्त खाद्य पदार्थ ज्यादा से ज्याद खाएं. जैसे नींबू, संतरा.

ये इशारा मिलें तो तत्काल चिकित्सक को दिखाएं
लंबे समय से बनी हुई सर्दी-खांसी
तेज बुखार
बुखार के बाद खांसी का आना
बच्चों में लंबे समय से बनी सर्दी-खांसी
वयस्कों में असहज महसूस होना, सिरदर्द बना रहा
श्वसन संबंधी परेशानियां
अत्यधिक संक्रामक
आकस्मित कमजोरी आना
शरीर में बीमारियों से लड़ने की क्षमता कम होना

कोरोना वायरस एक संक्रामक बीमारी है, जो वायरल इन्फेक्शन से फैलती है. इसके सामान्य संक्रमण में सर्दी जुकाम जैसे लक्षण नजर आते हैं, लेकिन स्थिति गंभीर होने पर मरीज को तत्काल उपचार की आवश्यकता होती है. अभी इस बीमारी की वैक्सीन इजात नहीं हुई है, इसलिए लक्षणों का ही उपचार किया जा रहा है. यदि सूखी खांसी आ रही है, लगातार सिरदर्द है, सर्दी जुकाम लंबे समय से बना हुआ है तो चिकित्सक से मिलें.

यदि किसी ऐसे क्षेत्र या देश में जाकर आए हैं जहां कोरोना वायरस फैल चुका है तो खुद पर नजर रखें. कोई भी लक्षण नजर आने पर तत्काल चिकित्सक को दिखाएं. ऐसे लोगों से दूर रहें, जिन्हें सर्दी जुकाम है. ऐसे लोगों से संपर्क में आने के बाद 20 सेकंड हाथ रगड़कर धोएं. यदि किसी ऐसी वस्तु को स्पर्श किया है जो साफ सुथरी नहीं है तो बिना हाथ धोए कुछ न खाएं. अपने खानपान पर ध्यान दें. धूम्रपान या शराब का सेवन जैसा कोई कार्य न करें, जो शरीर को निर्बल करता है. चिकित्सक की सलाह पर एंटीबायोटिक दवाएं लें व आराम करें.