ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
कोहली ने पीटरसन से कहा- टेस्ट क्रिकेट ने बेहतर इंसान बनाया, यह मुश्किल वक्त में लड़ने का जज्बा सिखाता है
April 3, 2020 • Rashtra Times

खेल डेस्क. कोरोनावायरस के कारण दुनिया की एक तिहाई आबादी घरों में कैद है। भारत में भी 14 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया है। ऐसे में भारतीय समेत विश्व के लगभग सभी खिलाड़ी सोशल मीडिया पर चैटिंग कर समय बिता रहे हैं। गुरुवार को भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन से लाइव चैटिंग की। इस दौरान अपने फेवरेट क्रिकेट फॉर्मेट के सवाल पर कोहली ने टेस्ट का नाम लिया। कोहली ने कहा कि टेस्ट क्रिकेट ने ही उन्हें बेहतर इंसान बनाया है। यह फॉर्मेट मुश्किल वक्त में लड़ने का जज्बा सिखाता है।

कोहली ने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट जीवन का प्रतिनिधित्व करता है, जहां किसी व्यक्ति के पास मुश्किल समय में भागने का विकल्प नहीं होता। आप रन बनाएं या नहीं, आपको अन्य बल्लेबाज के लिए ताली तो बजानी ही होती है। आपको अपने कमरे में वापस लौटने के बाद अगले दिन उठकर फिर मैदान में उतरना पड़ता है। टेस्ट क्रिकेट में आपको दिनचर्या का पालन करना होता है, फिर आप चाहे इसे पसंद करें या नहीं।’’

4 दिवसीय टेस्ट के विचार को पीटरसन ने खारिज किया

पीटरसन ने चार दिवसीय टेस्ट के विचार को खारिज करने के लिए कोहली की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे विचार-विमर्श के लिए बुलाया गया और मैंने उन्हें कह दिया कि अगर विराट कोहली नहीं चाहता कि 4 दिवसीय टेस्ट हो तो ऐसा नहीं होगा।’’

‘मैं अपना रवैया नहीं बदलूंगा’

अपने आक्रामक रवैये पर कोहली ने कहा, ‘‘मैं नहीं मानता हूं कि सिर्फ कप्तान होने के कारण मुझे अपने रवैये में बदलाव करना चाहिए। जरूरी है कि मैं लुत्फ उठाऊं और इसके बाद रणनीति आती है।’’ एबी डिविलियर्स पर छिंटाकशी को लेकर कोहली ने कहा, ‘‘आपसी सम्मान के मामले में आईपीएल की बड़ी भूमिका रही है। मैं कभी एबी के साथ ऐसा (छींटाकशी) नहीं कर पाऊंगा। हमारे बीच ऐसी मित्रता है जो इन चीजों से काफी अधिक समय तक बरकरार रहेगी।’’