ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
खाद्य मंत्री पासवान का खुलासा, देश में करोड़ राशन कार्ड फर्जी
January 21, 2020 • Rashtra Times

पटना। केंद्रीय खाद्य, सार्वजनिक वितरण एवं उपभोक्ता मामले मंत्री रामविलास पासवान ने देश में ‘एक राष्ट्र एक राशन कार्ड’ स्कीम लागू किए जाने की घोषणा करते हुए दावा किया कि देश में तीन करोड़ फर्जी राशन कार्ड की पहचान की गई है, जिनमें से 44404 बिहार में हैं।

पासवान ने बताया कि आधार कार्ड से जुड़ने के कारण इतनी बड़ी संख्या में फर्जी राशन कार्ड का पता चल पाया है। एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम के तहत अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग राशन कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी। पूरे देश में एक ही राशन कार्ड वैध होगा।


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि इस स्कीम को 3 चरणों में लागू किया जा रहा है। बारह राज्यों आंध्र प्रदेश, हरियाणा, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तेलंगाना, त्रिपुरा, गुजरात, पंजाब और झारखंड में यह स्कीम लागू की जा चुकी है। वहीं, चार राज्यों उत्तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा और छत्तीसगढ़ के कुछ क्षेत्रों में यह स्कीम आंशिक रूप से प्रचलन में है।


पासवान ने कहा कि बिहार और उत्तर प्रदेश मे एक राष्ट्र एक राशन कार्ड का 91 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और शेष कार्य
इस वर्ष मार्च तक पूर्ण कर लिया जाएगा। वहीं, ओडिशा और छत्तीसगढ़ में 01 जून तक पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस स्कीम के तहत लाभुकों की
बायोमिट्रिक पहचान के लिए प्वाइंट ऑफ सेल (POS) मशीनें लगाई जाएंगी।


पासवान ने बताया कि बिहार में लगभग सभी 46800 पीडीएस दुकानों में स्वचालन की प्रक्रिया पूरी की जा चुकी है। इसके अलावा राज्य के एनएफएसए लाभुकों के डुप्लिकेशन का क्रम भी जारी है। उन्होंने कहा कि यह आशा है कि 31 मार्च 2020 तक बिहार को भी एक राष्ट्र एक राशनकार्ड की प्रक्रिया से जोड़ दिया जाएगा।