ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
जयंत सिन्हा का दावा, 2024 तक भारत से मिट जाएगी गरीबी
February 24, 2020 • Rashtra Times

नई दिल्ली। पूर्व वित्त राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने रविवार को दावा किया कि केंद्र सरकार अगर वर्ष 2024 तक 5 हजार अरब डॉलर यानी 350 लाख करोड़ रुपए की अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को हासिल कर लेती है तो हम देश से गरीबी खासतौर पर अत्यंत गरीबी के स्तर को बिलकुल मिटा देंगे। सिन्हा ने एक सवाल के जवाब में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वर्ष 2024 तक देश को 5 हजार अरब डॉलर यानी 350 लाख करोड़ रुपए की अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य रखा है। यदि हम कुछ ही सालों में 350 लाख करोड़ रुपए का लक्ष्य पा लेते हैं तो हम लोग इस देश से गरीबी को विशेषकर अत्यंत गरीबी को बिलकुल मिटा देंगे। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि इस गरीबी को कब तक दूर कर लिया जाएगा?

सिन्हा ने कहा कि इतिहास में कभी भी किसी देश ने यह काम नहीं किया है। यह अपने आप में एक बहुत बड़ी ऐतिहासिक क्रांतिकारी उपलब्धि होगी इसलिए 350 लाख करोड़ रुपए की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य अहम है। हम इस लक्ष्य की ओर बढ़ रहे हैं।
 
उन्होंने कहा कि आज के समय हमारी अर्थव्यवस्था 200 लाख करोड़ रुपए की है। जब हम 5 हजार अरब डालॅर पर पहुंचेंगे तो हम लोगों का उत्पादन 350 लाख करोड़ रुपए हो जाएगा। करीब-करीब दोगुना। जब हम यह लक्ष्य हासिल कर लेंगे, तो हम विश्व में तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था होंगे।
 
सिन्हा ने बताया कि फिर अर्थव्यवस्था में हमसे आगे सिर्फ अमेरिका और चीन रहेंगे। उन्होंने कहा कि आज हम दुनिया की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था हैं। हमारे आगे अभी अमेरिका और चीन के अलावा जापान एवं जर्मनी भी हैं।
 
सिन्हा ने बताया कि वर्तमान में देश में करीब 25 करोड़ परिवार हैं और उनमें से हर परिवार को पिछले 5 सालों में मोदी के नेतृत्व वाली हमारी केंद्र सरकार की नीतियों एवं योजनाओं से लाभ मिला है। मोदी सरकार की विभिन्न उपलब्धियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हमने गरीबों के लिए ऐतिहासिक काम किया है। य ह हम नहीं, बल्कि विश्व की हर संस्था एवं एजेंसी कह रही है।