ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
जावेद अख्तर ने लाउडस्पीकर पर अजान को लेकर किया ट्वीट, जमकर हुए ट्रोल तो सफाई में कही यह बात
May 11, 2020 • Rashtra Times

बॉलीवुड के मशहूर गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर अक्सर अपने ट्वीट को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर वह हमेशा ही खुलकर अपनी बात रखते हैं। अब जावेद अख्तर अपने एक ट्वीट के चलते विवादों के घेरे में आ गए हैं। बॉलीवुड के मशहूर गीतकार और पटकथा लेखक जावेद अख्तर अक्सर अपने ट्वीट को लेकर सुर्खियों में बने रहते हैं। सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर वह हमेशा ही खुलकर अपनी बात रखते हैं। अब जावेद अख्तर अपने एक ट्वीट के चलते विवादों के घेरे में आ गए हैं। जावेद अख्तर का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ और लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। एक यूजर ने लिखा, लाउड स्पीकर्स पर सिर्फ अजान को बैन करने की बात कहकर आपको अपनी सेकुलरिज्म साबित करने की जरूरत नहीं है। बैन करना है तो लाउड स्पीकर को पूरी तरह से बैन किया जाना चाहिए।
एक यूजर ने जावेद अख्तर के ट्वीट पर आपत्ति जताते हुए लिखा, 'मैं आपके इस विचार का समर्थन नहीं करता। कृपया इस तरह के कमेंट पास ना करें, जो इस्लामिक विचारधारा को ठेस पहुंचाते हैं। जिंदगी में सही राह पर चलने के लिए अजान प्रार्थना का सबसे सही तरीका है।' इसके बाद जावेद अख्तर ने अपनी सफाई में एक दूसरा ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा, 'चाहे मंदिर हों या मस्जिद, अगर आप किसी त्यौहार पर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो ठीक है, लेकिन इसका इस्तेमाल मंदिर या मस्जिद में रोजाना नहीं होना चाहिए। करीब एक हजार साल से अधिक समय से अजान बिना लाउडस्पीकर के दी जा रही है। अजान आपके मजहब का अभिन्न हिस्सा है, किसी गैजेट का नहीं।' इसके बाद जावेद अख्तर ने अपनी सफाई में एक दूसरा ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा, 'चाहे मंदिर हों या मस्जिद, अगर आप किसी त्यौहार पर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल कर रहे हैं तो ठीक है, लेकिन इसका इस्तेमाल मंदिर या मस्जिद में रोजाना नहीं होना चाहिए। करीब एक हजार साल से अधिक समय से अजान बिना लाउडस्पीकर के दी जा रही है। अजान आपके मजहब का अभिन्न हिस्सा है, किसी गैजेट का नहीं।'