ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
जालंधर जिले में 79 लोग कोरोना संक्रमित, सीएम अमरिंदर सिंह ने सिविल सर्जन को वीडियो कॉल कर जाना हाल, बढ़ाया हौसला
April 28, 2020 • Rashtra Times

जालंधर. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंगलवार को सिविल सर्जन डॉ. गुरिंदर कौर चावला से वीडियो कॉलिंग के जरिए बात की और कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में प्रदेश में नंबर एक जालंधर का हाल जाना। दरअसल, जालंधर जिले में अब तक कोरोना संक्रमण के 79 मामले सामने आ चुके हैं। 3 की मौत भी हो चुकी है और अब भी लगातार इस आंकड़े में बढ़ोतरी हो रही है। इसी के मद्देनजर कैप्टन ने सिविल सर्जन डॉ. चावला से उनकी और उनके स्टाफ की सेहत के बारे में भी बात की और उनका हौसला बढ़ाया।

बिना लक्षण वाले मरीजों की जानकारी ली :
सिविल सर्जन ने सीएम को बताया कि जालंधर में अब तक ढाई हजार से ज्यादा टेस्ट हो चुके हैं और सैंपलिंग की प्रक्रिया तेज की जा रही है, ताकि कोरोना वायरस आगे ना फैले। साथ ही कई ऐसे मरीजों को भी ढूंढा गया है, जिनमें कोरोना वायरस के संक्रमण के कोई लक्षण नहीं थे। मुख्यमंत्री ने उनसे पूछा कि यह कैसे पता चलता है कि इन्हें कोरोना है, जबकि उन्हें कोई लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं? सिविल सर्जन ने जवाब दिया कि पॉजिटिव आए मरीज के संपर्क में आए इन लोगों की भी सेहत विभाग टेस्ट कर रहा है, जिस वजह से उन्हें लक्षण आने से पहले ही कोरोना वायरस की पुष्टि हो रही है और उसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती किया जा रहा है, ताकि वह दूसरों को संक्रमण न फैलाएं।

लगातार कर रहे हैं बातचीत :
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कोरोना वायरस संकट के बीच लगातार पुलिस प्रशासन के अधिकारियों और कर्मचारियों से बात कर उनका हौसला बढ़ा रहे हैं। अगर जालंधर की बात करें तो पिछले दिनों नकोदर में एक सब-इंस्पेक्टर और होम गार्ड जवान पर शराब तस्कर ने पेट्रोल बम से हमला कर दिया था। उस समय भी मुख्यमंत्री ने उपचाराधीन होम गार्ड जवान से वीडियो कॉल के जरिये बात कर उसका हाल जाना था।