ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
दिल्ली के पड़ोसियों ने कन्नी काटी-सील हुए बॉर्डर
May 31, 2020 • Rashtra Times

दिल्ली  के पड़ोस में होने के कारण ही फख्र की बात मानने वाले पड़ोसी जिलों  ने अब राजधानी दिल्ली से कन्नी काटनी शुरु कर दी है। यूपी  के बाद अब हरियाणा  ने भी दिल्ली से अपनी सीमाएं पूरी तरह सील कर ली हैं। दिल्ली में बेकाबू होते कोरोना के आंकड़ों की दहशत पड़ोसी राज्यों में दिखाई देने लगी है। फिलहाल दिल्ली में कंटोनमेंट जोन की संख्या सौ से ज्यादा हो चुकी है, लिहाजा अपने राज्यों को कोरोना से बचाने की जद्दोजहद में लगे पड़ोसी राज्यों ने अपने दरवाजे पूरी तरह बंद कर लिये हैं। वहीं एनसीआर में रहने वाले मगर रोजगार के लिए दिल्ली जाने को मजबूर लोगों के लिए अभी तक कोई छूट नहीं है।राजधानी में रोजाना तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों की रफ्तार बेलगाम हो चुकी है। गुजरात को पीछे छोड़कर राजधानी 17386 संक्रमण के आंकड़े के साथ तीसरे नंबर पर पहुंच चुकी है। कोरोना के आंकड़ों में राजधानी से आगे सिर्फ महाराष्ट्र (62228) और तमिलनाडू (21184) हैं। मई की शुरुआत से ही दिल्ली में कोरोना के मामलों में तेजी दिखाई दे रही है। इसके पीछे सीएम केजरीवाल के लॉक डाउन 4 को नकारने को प्रमुख वजह माना जा रहा है। वहीं पड़ोसी राज्यों उत्तर प्रदेश और हरियाणा ने अपने राज्य को इन मामलों से बचाने के लिए दिल्ली से लगी सीमाओं को पूरी तरह सील कर दिया है।

दिल्ली से लगे हुए उसके सबसे बड़े पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश में पूरे देश में सबसे ज्यादा जनसंख्या (लगभग 23 करोड़) के बाद भी 7446 आंकड़े सामने आए हैं। हालांकि प्रवासी मजदूरों के पहुंचने के बाद यूपी में आंकड़ा बड़ा है, फिर भी सीएम योगी की मेहनत के चलते सबसे भारी भरकम जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश ने बेहतरीन तरीके से कोरोना पर नियंत्रण किया हुआ है। वहीं हरियाणा में अभी तक सिर्फ 1923 मामले सामने आए हैं।