ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
'चीन चाहता तो इतना नहीं फैलता कोरोना, राष्ट्रपति ट्रंप तय करेंगे उसकी सजा'
May 18, 2020 • Rashtra Times

 वाशिंगटन। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक बार फिर पूरी दुनिया में कोरोना वायरस फैलने के मामले में चीन पर निशाना साधा है। उन्होंने चीन पर  आरोप लगाया है कि वहां की सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का गंभीर खतरा होने की जानकारी के बावजूद अपने लोगों को विदेश यात्रा करने की अनुमति दी।

इसकी वजह से पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा और भी गहरा गया। चीन चाहता तो कोरोना पूरी दुनिया में इतना नहीं फैलता। उन्होंने कहा कि इस मामले में चीन को क्या और किस तरह का दंड दिया जाना चाहिए, इस रणनीति का फैसला राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप करेंगे। 
बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक दिन पहले ही कहा था कि वह अपने चीनी समकक्ष से अभी बात नहीं करना चाहते हैं। इसके बाद ही विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का यह बयान आया है। अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण से 88,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और वह इस विश्वव्यापी महामारी के चीन को जिम्मेदार मानता है।
जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय की रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका में कोरोनो वायरस के अब तक 1,482,916 मामले सामने आ चुके हैं और कम से कम 89,318 लोगों की मौत हो चुकी है। एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में कोरोना के अब तक करीब 46 लाख मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 3 लाख 14 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।