ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
बुमराह ने कहा- मेरे गेंदबाजी एक्शन की वजह से कई लोगों ने सोचा था कि मैं भारत के लिए खेलने वाला आखिरी खिलाड़ी रहूंगा
April 27, 2020 • Rashtra Times

जसप्रीत बुमराह कुछ सालों के भीतर ही दुनिया के शीर्ष गेंदबाजों में से एक बन गए हैं। लेकिन उनका कहना है कि करियर की शुरुआत में कई लोगों ने यह सोचा था कि मैं भारत के लिए खेलना वाला आखिरी व्यक्ति रहूंगा। उन्होंने भारत के पूर्व बल्लेबाज युवराज सिंह से इंस्टाग्राम पर लाइव चैट के दौरान यह खुलासा किया।
बुमराह ने कहा कि तब लोगों ने मेरे हाई आर्म एक्शन की वजह से मुझे कहा था कि मैं शायद ही एक या दो से ज्यादा रणजी मैच खेल पाऊं। क्योंकि इस एक्शन की वजह से चोटिल होने की आशंका ज्यादा थी। लेकिन मैं सुधार करता गया और अपने एक्शन पर टिका रहा। 

'टेनिस बॉल से खेलने वाले गेंदबाज के एक्शन को कॉपी करता था'

इस गेंदबाज ने किसी का नाम न लेते हुए अपने एक्शन के पीछे की प्रेरणा का भी खुलासा किया। उन्होंने बताया कि मैंने कोई स्पेशल कोचिंग नहीं ली है जो भी सीखा है वह टीवी पर गेंदबाजों को बॉलिंग करते हुए ही सीखा है। मैं शुरुआती दिनों में टेनिस बॉल से खेलने वाले एक गेंदबाज के एक्शन को कॉपी करता था। धीरे-धीरे यह आदत में शामिल हो गया और फिर किसी ने भी मुझे इसे बदलने के लिए नहीं कहा। 

मैं टेस्ट क्रिकेट की वैल्यू करता हूं : बुमराह
बुमराह ने य़ुवराज से चैट के दौरान टेस्ट क्रिकेट की अहमियत पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि मैं टेस्ट क्रिकेट की वैल्यू करता हूं क्योंकि यहां हर विकेट के लिए गेंदबाज को मेहनत करनी पड़ती है। मेरे लिए हर टेस्ट अहम है। यह अलग बात है कि अब तक मैं भारत में कोई टेस्ट मैच नहीं खेला हूं और इसका बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं। इस दौरान युवराज ने इस गेंदबाज को याद दिलाया कि उन्होंने बहुत पहले ही कह दिया था कि एक दिन वो(बुमराह) दुनिया के नंबर-1 गेंदबाज बनेंगे। 2017 में ऐसा हुआ भी। तब बुमराह टी-20 में दुनिया के शीर्ष गेंदबाज बने थे। 

बुमराह ने 2018 में टेस्ट डेब्यू किया था
बुमराह ने अब तक 64 वनडे, 50 टी-20 और 14 टेस्ट खेले हैं। उन्होंने 2018 में टेस्ट डेब्यू किया था। इसके बाद से ही वे भारतीय कप्तान विराट कोहली की टेस्ट फॉर्मेट में बतौर गेंदबाज पहली पसंद हैं।