ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
अब तक 2 हजार 400 मामले: इनमें से 400 तब्लीगी जमात के चलते संक्रमित हुए; सरकार ने इससे जुड़े 906 विदेशियों को ब्लैकलिस्ट किया, वीजा भी निरस्त
April 2, 2020 • Rashtra Times

नई दिल्ली. कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या 2 हजार 400 हो गई है। केंद्र सरकार के मुताबिक, इनमें से करीब 400 लोग ऐसे हैं, जो तब्लीगी जमात की वजह से संक्रमण की चपेट में आए। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा- अलग-अलग राज्यों में संपर्कों की पड़ताल के बाद हमें 400 ऐसे संक्रमित मिले हैं, जो निजामुद्दीन मरकज और तब्लीगी जमात के केंद्र से संबंधित हैं। इसके बाद, गृह मंत्रालय ने तब्लीगी जमात में शामिल होने पहुंचे 906 विदेशियों को ब्लैकलिस्ट कर दिया है। इनका वीजा भी निरस्त कर दिया गया है। इन लोगों पर फॉरेनर्स एक्ट 1946 और आपदा प्रबंधन एक्ट 2005 के तहत कार्रवाई भी की जाएगी। गृह मंत्रालय ने दिल्ली समेत दूसरे राज्यों को इन विदेशियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा है।

इधर, देश में गुरुवार को 341 नए मामले सामने आए। कुल 2 हजार 400 में से 181 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 69 लोगों की जान चली गई। ये आंकड़े covid19india.org वेबसाइट के अनुसार हैं। वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, दोपहर 4 बजे तक देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 हजार 967 है। इनमें से 1 हजार 764 का इलाज चल रहा है। 150 ठीक हो चुके हैं और 50 लोगों की मौत हो चुकी है। 

जमात से जुड़े लोग देश भर में फैल चुके हैं

स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने गुरुवार को कहा- मरकज से संबंधित सबसे ज्यादा 173 मामले तमिलनाडु में सामने आए हैं। आंध्र प्रदेश में 67, दिल्ली में 47, तेलंगाना में 33, कश्मीर में 22, असम में 16, राजस्थान में 11, अंडमान-निकोबार में 9 और पुडुचेरी में 2 संक्रमित मिले हैं। अभी अतिरिक्त टेस्टिंग की जा रही है और मामले बढ़ने की संभावना है। इधर, गुरुवार को कोरोना ने अरुणाचल प्रदेश में भी दस्तक दे दी। यहां संक्रमण का पहला सामने आया। अब देश के 26 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों में संक्रमण फैल चुका है। गुरुवार को जहां 341 मामले मिल चुके हैं, वहीं मंगलवार से बुधवार तक 24 घंटे में रिकॉर्ड 437 नए केस सामने आए थे।

अस्पताल में भर्ती जमातियों से स्टाफ को खतरा

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से निकाले गई जमातियों पर लगातार बदसलूकी के आरोप लग रहे हैं। दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश नारायण हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ. जेसी पासे ने बताया है कि तब्लीगी जमात में शामिल 188 लोग उनके यहां भर्ती हैं। इनमें से 24 की रिपार्ट आई है। 23 को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। कई जमाती टेस्ट कराने से मना कर रहे हैं। उनसे स्टाफ को खतरा था। ऐसे में जिन तीन ब्लॉक में जमातियों को रखा गया है, वहां पुलिस तैनात कर दी गई है।

26 राज्यों में और चार केंद्र शासित प्रदेशों में पहुंचा कोरोना

राज्यकितने संक्रमितकितनी मौतकितने ठीक हुए
महाराष्ट्र4181942
केरल286228
तमिलनाडु30916
दिल्ली21946

तेलंगाना

127

9

14

राजस्थान13323
उत्तरप्रदेश121217
कर्नाटक12139
आंध्रप्रदेश14302
मध्यप्रदेश10080
गुजरात8777
जम्मू-कश्मीर7023
पंजाब4741
हरियाणा49027
प.बंगाल5336
बिहार2410
चंडीगढ़1810
लद्दाख1303
असम1600
अंडमान-निकोबार1000
छत्तीसगढ़900
उत्तराखंड700
गोवा500
ओडिशा501
हिमाचल प्रदेश311
पुडुचेरी300
मणिपुर200
मिजोरम100
झारखंड200
अरुणाचल प्रदेश100

देश के 11 राज्यों का हाल

  • महाराष्ट्र; कुल संक्रमित- 416: सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में 30 सरकारी अस्पतालों को कोरोना अस्पताल घोषित कर दिया गया है। इसके बाद संक्रमितों के इलाज के लिए 2 हजार 305 बिस्तरों की अतिरिक्त क्षमता उपलब्ध हो गई है। यहां बुधवार को एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी बस्ती धारावी मे मिले संक्रमित की इलाज के दौरान मौत हो गई। मृतक के परिवार के सात सदस्यों को होम क्वारैंटाइन किया गया है। उधर, पुणे का स्टार्टअप एनओसीसीए प्राइवेट लिमिटेड कोरोनावायरस आपदा को देखते हुए कम लागत वाले वेंटिलेटर बना रहा है। स्टार्टअप के को-फाउंडर निखिल कुरेले का कहना है कि यह वेंटिलेटर 50 हजार रुपए में तैयार हो जाने का अनुमान है।
  • मध्यप्रदेश; कुल संक्रमित- 100: राज्य में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 100 हो गई है। मुरैना में पति पत्नी संक्रमित पाए गए। पति दुबई से लौटा था। वहीं, इंदौर में बुधवार देर रात 12 और मरीजों की कोरोनावायरस संक्रमण की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके साथ ही शहर में संक्रमितों की संख्या 75 हो गई। इंदौर के टाटपट्‌टी बाखल इलाके में बुधवार को संक्रमण संदिग्धों की स्क्रीनिंग करने पहुंचे कुछ स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं पर लोगों ने पथराव कर दिया। इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।
  • राजस्थान; कुल संक्रमित- 133: गुरुवार को 12 और संक्रमित मिले हैं। इनमें से जयपुर में 7, जोधपुर और झुंझुनूं में 1-1 पॉजिटिव मिला है। इसके साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 129 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, रामगंज में मिले सातों संक्रमित पहले पॉजिटिव मिले एक व्यक्ति के क्लोज कॉन्टैक्ट में आए थे। वह व्यक्ति 17 करीबियों को संक्रमित कर चुका है। झुंझुनूं में संक्रमित मिला व्यक्ति निजामुद्दीन की तब्लीगी जमात में शामिल हुआ था। राज्य में बुधवार को 17 मामले सामने आए थे।
  • उत्तरप्रदेश; कुल संक्रमित- 121: उत्तरप्रदेश पुलिस ने दिल्ली की तब्लीगी जमात में शामिल हुए 569 लोगों का पता लगा लिया है। राज्य में कोरोनावायरस की वजह से बने डर के माहौल में दो लोगों ने खुदकुशी कर ली है। शामली जिले की डीएम जसजीत कौर ने बताया कि यहां हॉस्पिटल के क्वारैंटाइन वार्ड में एक व्यक्ति ने खुदकुशी पर ली। उसमें कोरोना संक्रमण के लक्षण थे। उसकी जांच रिपोर्ट का इंतजार है। उधर, सहारनपुर एसपी दिनेश कुमार पी ने बतया कि नाकुर थाने में एक सरकारी कर्मचारी ने फांसी लगा ली। उसने सुसाइड नोट में इसकी वजह कोरोनावायरस का डर बताया है। उसके परिवार वालों का कहना है कि वह लंबे समय से अवसाद में था।
  • दिल्ली; कुल संक्रमित- 219: स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि बुधवार को यहां 32 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इनमें से निजामुद्दीन की जमात में शामिल हुए 29 लोग हैं। दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती 700 लोगों में संक्रमण की आशंका है। 
  • कर्नाटक; कुल संक्रमित- 121: मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली के मरकज में जाने वाले 391 लोगों का पता लगा लिया गया है। उन्होंने कहा कि बीदर में जिन 11 लोगों की जांच की गई थी, उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 
    • आंध्रप्रदेश; कुल संक्रमित 143: गुरुवार को यहां 32 नए मामले सामने आए। बुधवार को 57 नए मरीज मिले थे। मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने महामारी और लॉकडाउन को देखते हुए सरकारी कर्मचारियों का वेतन फिलहाल टालने का आदेश दिया है। मंत्री विधायकों और जन प्रतिनिधियों का वेतन भी रोका गया है। हालांकि, पेंशनर्स को घर-घर जाकर राशि का भुगतान किया जा रहा है।
    • तेलंगाना; कुल संक्रमित- 127: राज्य में गुरुवार को संक्रमण के 5 नए मामले सामने आए। यहां बुधवार को कोरोना संक्रमण के 30 नए मामले सामने आए, जबकि 3 की मौत हुई। राज्य में मृतकों का आंकड़ा 9 हो गया है। मरने वाले सभी लोग दिल्ली में तब्लीगी जमात में हिस्सा लेकर लौटे थे। मुख्यमंत्री कार्यालय ने यह जानकारी दी। यहां सबसे ज्यादा 36 संक्रमित हैदराबाद में हैं।
    • असम; कुल संक्रमित- 16: राज्य में गुरुवार को कोरोना के 3 नए मरीज मिले। ये पूर्वी असम के गोलाघाट के रहने वाले हैं। ये सभी निजामुद्दीन की जमात से लौटे थे।
      • केरल; कुल संक्रमित- 286: संक्रमितों की संख्या के मामले में केरल महाराष्ट्र के बाद दूसरे स्थान पर है। राज्य में सबसे ज्यादा 121 संक्रमित कासरगोड़ में हैं। इस बीच, मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा है कि दिल्ली में मरकज की जमात में शामिल लोगों को निशाना बनाने के लिए सोशल मीडिया पर इरादतन अभियान चलाया जा रहा है। इस महामारी के दौरान कोई धार्मिक अलगाव पैदा करने की कोशिश करेगा तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उधर, केरल हाईकोर्ट ने राज्य सरकार के उस आदेश पर रोक लगा दी है, जिसमें नशे के आदी लोगों को डॉक्टर का पर्चा पेश करने पर शराब देने की व्यवस्था दी गई थी। यह रोक तीन हफ्ते के लिए लगाई गई है। 
      • ओडिशा; कुल संक्रमित- 5: भुवनेश्वर और कटक में सिर्फ कोरोना के लिए दो अस्पताल बनाए गए हैं। इनमें मुफ्त इलाज किया जाएगा। दोनों हॉस्पटल में कुल 650 बिस्तर हैं। भुवनेश्वर का हॉस्पिटल कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस में बनाया गया है। इसके सीईओ डॉ. विष्णु ने बताया कि इन हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमण के संदिग्धों, संक्रमितों और गंभीर मरीजों को अलग-अलग रखने की सुविधा है। अस्पताल में डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ के रहने का भी इंतजाम किया गया है। वे इलाज के बाद 14 दिन तक यहीं रहेंगे।

      एक्स के एक डॉक्टर के संक्रमित होने की खबर

      दिल्ली एम्स के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया है कि यहां के साइकोलॉजी डिपार्टमेंट के एक रेसिडेंट डॉक्टर की कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। उन्हें यहां एक प्राइवेट वार्ड में भर्ती किया गया है।

      रेलवे ने 14 अप्रैल के बाद के रिजर्वेशन पर रोक नहीं लगाई
      कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि रेलवे ने 14 अप्रैल के बाद के रिजर्वेशन करना शुरू कर दिए हैं। इस पर रेलवे ने स्पष्ट किया है कि 14 अप्रैल के बाद ट्रेन से यात्रा करने पर पहले भी रोक नहीं लगाई गई थी। यह कोई नया आदेश नहीं है।

      दान का सिलसिला जारी
      कोरोनावायरस आपदा से निपटने के लिए पीएम केयर में दान देने का सिलसिला जारी है। एचडीएफसी ग्रुप ने केंद्र सरकार के राहत और पुनर्वास के कामों के लिए 150 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है।