ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
58 नए पॉजिटिव, 26 साल की गर्भवती की मौत; बाड़मेर में कोटा से आए बेटे को क्वारैंटाइन करने के लिए पिता ने घर से 3 किमी दूर कमरा तैयार किया  
May 1, 2020 • Rashtra Times

जयपुर. राजस्थान में शुक्रवार को संक्रमण के 58 नए मामले सामने आए। इनमें जोधपुर में 18, जयपुर में 14, अजमेर 11, कोटा और चित्तौड़गढ़ में 7-7 और राजसमंद में एक केस पॉजिटिव मिला। प्रदेश में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2642 पहुंच गया। इसके अलावा शुक्रवार को 7 मरीज ठीक हुए और 3 की मौत हुई। इनमें जयपुर में 2 और नागौर में 1 व्यक्ति ने दम तोड़ा। प्रदेश में इस बीमारी से अब तक 61 मौत हुई हैं।

शुक्रवार को पहली मौत नागौर के बासोनी की 26 साल की गर्भवती महिला की हुई। 25 अप्रैल को उसे अस्पताल में भर्ती किया गया था। दूसरी मौत जयपुर के शास्त्री नगर में 32 साल के पुरुष की हुई। उसे 28 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती किया गया था। तीसरी मौत जयपुर के खजाने वालों के रास्ते में 62 साल के पुरुष की हुई। उन्हें 28 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

गांव लौटे बेटे को क्वारैंटाइन करने के लिए कमरा तैयार किया

बाड़मेर जिले के लीलसर के शेरपुरा गांव निवासी जगदीश सऊ ने सोशल डिस्टेंस का उदाहरण पेश किया। कोटा में कोचिंग कर रहा उनका बेटा मुकेश लॉकडाउन के बीच अचानक घर लौटा था। ऐसे में जगदीश ने घर से 3 किलोमीटर दूर पुराने छप्पर की मरम्मत की और बेटे को वहीं क्वारैंटाइन कर दिया। 

कोटा: बेटे की पीठ पर बैठकर बुजुर्ग मां जांच कराने पहुंची
कोटा के स्टेशन इलाके में मेडिकल टीम कोरोना संदिग्धों की जांच करने पहुंची थी। 70 साल की गंगाबाई को सूचना मिली तो वे अपने बेटे की पीठ पर बैठकर जांच कराने पहुंच गईं। गंगाबाई चल-फिर नहीं पातीं। जयपुर संभाग के 60 में 30 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू
कोरोना संक्रमण के मामले मिलने के बाद बजाज नगर इलाके के हिम्मत नगर और मोती डूंगरी इलाके के तिवाड़ी का बाग स्थित गली में कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं, मुरलीपुरा इलाके में नानू नगर स्थित प्लॉट नंबर 24 से 102 तक कर्फ्यू लगाया गया। अभी जयपुर संभाग के 60 में से 30 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू है।

जोधपुर: संक्रमितों की संख्या 500 के पार
शहर के 9 थानों में कर्फ्यू लगा है, फिर भी कोरोनावायरस तेजी से फैल रहा है। यहां 100 से 400 संक्रमित होने में 13 दिन लगे थे, वहीं दो दिन में यह आंकड़ा 511 हो गया है।

नागौर में गर्भवती की मौत, भाई और मां भी संक्रमित
कोरोना से जिले में गुरुवार को दूसरी मौत हुई है। बासनी निवासी गर्भवती महिला ने तड़के करीब पौने 3 बजे दम तोड़ा। वह 4 दिन पहले ही अपने बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में भर्ती हुई थी। महिला का भाई और मां भी संक्रमित हैं। इससे पहले बासनी के ही मोहम्मद अली की भी कोरोना से मौत हो चुकी है। राजस्थान: 33 में से 29 जिलों में पहुंचा कोरोना

प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 925 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 575 (इसमें 47 ईरान से आए), कोटा में 204, अजमेर में 161, टोंक में 134, भरतपुर में 111, नागौर में 118, बांसवाड़ा में 66, जैसलमेर में 49 (इसमें 14 ईरान से आए), झुंझुनूं में 42, झालावाड़ में 40, बीकानेर और भीलवाड़ा में 37-37, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 21, चित्तौड़गढ़ में 26, चूरू में 14, धौलपुर और पाली में 12-12, हनुमानगढ़ में 11, अलवर में 9, सवाईमाधोपुर और उदयपुर में 8-8, डूंगरपुर और सीकर में 6-6, करौली में 3, राजसमंद,  बाड़मेर और प्रतापगढ़ में 2-2 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। वहीं बारां में 1 संक्रमित मिला है।
राजस्थान में कोरोना से अब तक 61 लोगों की मौत हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मौत जयपुर में हुई हैं। यहां 36 जयपुर (जिसमें दो यूपी से) की जान जा चुकी है। इसके अलावा, जोधपुर में 7, कोटा में 6, नागौर, भीलवाड़ा, सीकर और भरतपुर में 2-2, अलवर, बीकानेर, चित्तौड़गढ़ और टोंक में एक-एक की जान जा चुकी है।
कोराना संकट के बीच राहत की खबर यह है कि अब तक प्रदेश में 644 लोग स्वस्थ भी हुए हैं। जयपुर में 249 (2 इटली के नागरिक), जोधपुर 100, बीकानेर में 36, कोटा में 29 भीलवाड़ा में 24, जैसलमेर में 30, बांसवाड़ा में 31, झुंझुनू 33, टोंक में 35, झालावाड़ में 14, चुरू में 12, नागौर में 9, डूंगरपुर 5, अजमेर में 5, दौसा में 5, भरतपुर में 4, उदयपुर, हनुमानगढ़, सीकर, पाली और प्रतापगढ़ में दो-दो, बाड़मेर अलवर और करौली में एक-एक  मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। इसके अलावा, ईरान से जोधपुर और जैसलमेर लाए गए 8 लोगों भी संक्रमण से मुक्त हुए हैं।