ALL राजनीति मनोरंजन तकनीकी खेल कारोबार धार्मिक अंतर्राष्ट्रीय राष्ट्रीय ई पेपर पीआर न्यूजवायर
19 जिलों में नए 126 पॉजिटिव आए, दो की मौत, 19 लाख प्रवासी मजदूरों ने आने के लिए किया है आवेदन, लगेंगे कई महीने  
May 11, 2020 • Rashtra Times

जयपुर. राजस्थान में कोरोनावायरस के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। सोमवार दोपहर तक 19 जिलों में 126 नए लोग पॉजिटिव मिले। इनमें उदयपुर में 46, जयपुर में 17, अलवर और अजमेर में 11, जालौर, पाली और चित्तौड़गढ़ में 5-5, सिरोही और राजसमंद में 4, कोटा में 3, जोधपुर, बाड़मेर, दौसा, नागौर, करौली और टोंक में 2-2, जैसलमेर, भरतपुर और डूंगरपुर में 1-1 संक्रमित मिला। इसके बाद कुल पॉजटिव की संख्या 3940 पहुंच गई। वहीं, दो लोगों की मौत भी हो गई। इनमें अजमेर और जयपुर में 1-1 मौत रिकॉर्ड की गई, जिसके बाद कुल मौत की संख्या 110 पहुंची।

इससे पहले रविवार को 106 नए मामले सामने आए। इनमें उदयपुर में 30, जयपुर में 23, कोटा में 17, जोधपुर में 11, अजमेर में 9, टोंक में 4, नागौर में 3, बारां और पाली में 2-2, राजसमंद, सिरोही, जालौर, बीकानेर और डूंगरपुर में 1 संक्रमित पाया गया। वहीं दो की मौत भी हुई। इनमें जयपुर और बांसवाड़ा में 1-1 व्यक्ति की मौत हो गई। इसके बाद मौत का कुल आंकड़ा 108 पहुंच गई।

33 में से 31 जिलों में पहुंचा कोरोना

प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1240 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 922 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 253, अजमेर में 231, टोंक में 142, चित्तौड़गढ़ में 141, नागौर में 124, भरतपुर में 117, उदयपुर में 179, बांसवाड़ा में 66, पाली में 67, जैसलमेर में 50 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 47, झुंझुनूं में 42, भीलवाड़ा में 43, बीकानेर में 39, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 24, धौलपुर में 21, अलवर में 31, चूरू में 17, राजसमंद में 20, हनुमानगढ़ में 11, सवाई माधोपुर में 10, डूंगरपुर में 11, सीकर में 9, जालौर में 13, सिरोही में 8, करौली में 7, बाड़मेर में 6, प्रतापगढ़ में 4 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 3 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 42 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं।

अब तक 110 लोगों की मौत
राजस्थान में कोरोना से अब तक 110 लोगों की मौत हुई है। इनमें 10 कोटा, 2 भीलवाड़ा, 2 चित्तौड़गढ़ 60 जयपुर (जिसमें दो यूपी से), 17 जोधपुर, 5 अजमेर, दो नागौर, दो सीकर, दो भरतपुर, एक बांसवाड़ा, एक चूरू, एक करौली, एक प्रतापगढ़, एक अलवर, एक बीकानेर, एक सवाई माधोपुर और एक टोंक में हो चुकी है।

मजदूरों को प्राथमिकता के आधार पर लाया जाएगा: गहलोत

राजस्थान में आने के लिए 19 लाख प्रवासी मजदूरों ने आवेदन किया है। इन सभी को लाना तो संभव नहीं है, क्योंकि इन्हें लाने में कई महीने लग जाएंगे। ऐसे में सभी सांसद-विधायक अपने क्षेत्र में उन मजदूरों की सूची तैयार करके राज्य सरकार को भेजें, जिन्हें प्राथमिकता के आधार पर पहले लाना है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी सांसदों और विधायकों से संवाद के दौरान ये बातें कहीं। वीसी में 24 सांसद और 157 विधायक शामिल हुए। यह करीब 12 घंटे चली।

वाहन, उद्योग, फैक्ट्रियां शुरू होने से प्रदूषण का स्तर बढ़ा

लॉकडाउन लागू होने के बाद शहर में वायु व ध्वनि प्रदूषण कम होने के बाद अच्छी तस्वीर निकल कर सामने आई थी, लेकिन अब मॉडिफाइड लॉकडाउन लागू होने के बाद शहरवासियों के लिए चिंता की खबर है। वाहनों, कारखाने, फैक्टरी आदि शुरू होने के बाद प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है। प्रदूषण का स्तर बढ़ने के कारण अब जयपुर ग्रीन जोन से निकलकर यलो जोन में आ गया है। यानी कि अब जयपुर की हवा अच्छी और सांस लेने के लिए संतोषजनक नहीं रह कर मॉडरेट हो गई है।